राज्य को प्रगति के पथ पर ले जाने का इरादा

ओमप्रकाश सिंह सेतु:

पश्चिमी बिहार स्थित रोहतास जिले के बरागांव में 15 दिसंबर 1985 को पैदा हुए ओम प्रकाश सिंह सेतु की पहचान ही समाज सेवा है। पटना के वाणिज्य महाविद्यालय से एमकॉम करने के बाद ओम प्रकाश ने पटना विश्वविद्यालय से एलएलएम किया। इसके बाद अपनी सोच के चलते वे एक सामाजिक संस्थान से जुड़ गए। इस दौरान अपने गृह जिला रोहतास की शांति समिति में सदस्य बतौर सदस्य काम करने के अलावा कामेश्वर सिंह स्मृति संस्थान में सचिव और राज्य पोलियो उन्मूलन कार्यक्रमों में सक्रिय भूमिका निभाते रहे।

साथ ही ओम प्रकाश आधी आबादी को साक्षरता से जोड़ने के लिए कई कार्यशालाओं के माध्यम से महिलाओं में जागृति लाने में जुटे रहे और युवाओं के बीच शिक्षा के प्रचार-प्रसार भी करते रहे। अंग्रेजी-हिंदी समेत कई क्षेत्रिय भाषा का ज्ञान रखने वाले युवा नेता श्री सेतु इन दिनों युवा जदयू के प्रदेश प्रवक्ता के रुप में कार्य रहे हैं। इनसे प्रभावित होकर कई युवा नेता आए दिन जदयू की राजनीति में प्रवेश कर रहे हैं।

ओम प्रकाश सकारात्मक सोच रखने वाले शिक्षित सक्रिय युवा के साथ मिलकर सभ्य समाज के निर्माण में जुटे हैं। सरकार के साथ युवा भी कदमताल से चले इसकी पूरजोर कोशिश में जुटे हैं।

पार्टी की नीतियों को युवाओं के बीच ले जाने में अहम भूमिका निभाने वाले ओम प्रकाश सिंह सेतु किसी पहचान के मोहताज नहीं हैं। सरकार के कार्यों को युवाओं के बीच कम से कम समय में कैसे पहुंचाया जाए, इसमें इन्हें महारत हांसिल है।

ओम प्रकाश का मकसद है  राजनीति में अपनी जिम्मेदारियों का निर्वहन करते हुए राज्य को प्रगति के पथ पर ले जाना। इसके लिए ही सदा सक्रिय रहते हैं। फेम इंडिया-एशिया पोस्ट ने अपने ताजा सर्वे में उन्हें बिहार के 40 प्रतिभाशाली युवाओं में पाया है।