अंबानी नहीं नीता के बूते बनायी पहचान

भारत की सबसे अमीर महिलाओं में शुमार जानी-मानी बिजनेस वुमन नीता दलाल मुकेश अम्बानी किसी परिचय की मोहताज नहीं हैं. बॉलीवुड हो या क्रिकेट नीता अंबानी ने हर जगह अपनी दमदार उपस्थिति दर्ज करवाई है. रिलायंस इंडस्ट्रीज की डायरेक्टर से लेकर आईपीएल की मुंबई इंडियन्स क्रिकेट टीम की मालकिन तक उनके नाम कई उपलब्धियां दर्ज हैं. वे रिलायंस फाउंडेशन की चेयरपर्सन, फाउंडर और धीरुभाई अंबानी इंटरनेशनल स्कूल की संस्थापक और चेयरपर्सन भी हैं.

नीता अंबानी किसी भी आइकॉन से कम नहीं हैं. उनके मोबाइल फोन से लेकर, साड़ी, पर्स, फुटवियर यहाँ तक कि सुबह की चाय का कप भी सुर्ख़ियों में रहता है. 1963 में  मुंबई में जन्‍मी नीता अंबानी मिडिल क्‍लास परिवार से ताल्‍लुक रखती हैं. नीता ने मुंबई के नरसी मोंजी कॉलेज ऑफ़ कॉमर्स एंड इकोनॉमिक्स से कॉमर्स में बैचलर की डिग्री प्राप्त की है. नीता एक ट्रेन्ड भरतनाट्यम डांसर हैं. वे हमेशा से क्‍लासिकल डांसर बनना चाहती थीं. डांस ने ही नीता के किस्मत के दरवाज़े खोले. दरअसल, नीता को धीरूभाई अंबानी और कोकिला बेन ने पहली बार एक सांस्कृतिक कार्यक्रम में नृत्य करते देखा था। नीता की कला से प्रभावित धीरूभाई ने उन्हें मुकेश के लिए पसंद कर लिया था।

जब मुकेश अंबानी से नीता की शादी की बात चल रही थी, तब वह एक स्कूल में बतौर टीचर काम कर रही थीं। उन्होंने मुकेश के सामने सिर्फ यही शर्त रखी थी कि शादी के बाद उन्हें नौकरी छोड़ने के लिए नहीं कहा जाएगा। शादी के कुछ सालों बाद तक भी नीता ने पढ़ाना जारी रखा. मुकेश अंबानी और नीता अंबानी ने कई रूरल स्कूल भी चलाये. इसके बाद मुंबई में धीरुभाई अम्बानी इंटरनेशनल स्कूल की नींव रखी.

साल 2016 में नीता अंबानी को फोर्ब्स ने एशिया की सबसे शक्तिशाली महिला कारोबारी घोषित किया. नीता इस क्षेत्र की 50 प्रमुख उद्यमियों की सूची में टॉप पर रह चुकी हैं. वे पहली भारतीय महिला हैं जिन्हें इंटरनेशनल ओलिंपिक समिति का सदस्य चुना गया. नीता को शिक्षा व समाज में बेहतर काम करने और कला को बढ़ावा देने के लिए न्यूयॉर्क में मेट्रोपोलिटन म्यूजियम द्वारा सम्मानित भी किया जा चुका है. अभी हाल ही में नीता अंबानी को फोर्ब्स ने अंतरराष्ट्रीय खेलों में दुनिया की सबसे शक्तिशाली महिलाओं की लिस्ट में शामिल किया है। 25 लोगों की लिस्ट में भारत से केवल दो नाम शामिल हैं। देश के सबसे अमीर उद्योगपति मुकेश अंबानी की पत्नी नीता अंबानी को इस लिस्ट में 9वें नंबर पर रखा गया है.

शादी के 17 साल बाद तक नीता अंबानी ने अपने आपको बिज़नस से दूर रखा. उन्होंने अपना पूरा वक़्त अपनी फैमिली को दिया. लेकिन इसके बाद जब वे बिज़नेस में उतरीं उन्होंने कड़ी मेहनत और लगन से अपने आपको साबित किया. और आज नीता अंबानी सुर्ख़ियों में बनी रहती हैं. नीता का कहना है कि ये उनका काम ही है जो उनको लाइमलाइट में ले आया. उनके काम ने ही उनको मुकेश अंबानी की पत्नी से इतर पहचान दिलाई. हालाँकि नीता को अपने बिजी शेड्यूल से वक़्त कम ही मिलता है लेकिन जब भी वे खाली होती हैं अपने तीनों बच्चों के साथ वक़्त बिताना पसंद करती हैं. नीता अंबानी एक आदर्श माँ, आदर्श पत्नी, कुशल उद्यमी, शिक्षाविद् एवं समाजसेवी हैं.

ग्रासरूट खेलों पर उनकी पहल के लिए, नीता अंबानी को भारत के राष्ट्रपति से ‘राष्ट्रीय खेल प्रोत्साहन पुरस्कार 2017’ मिल चुका है. साथ ही टाइम्स ऑफ इंडिया द्वारा भारतीय खेलों के सर्वश्रेष्ठ कॉरपोरेट समर्थक के लिए भी उन्हें सम्मानित किया गया है.

शक्तिशाली नारी शक्ति के इस सर्वे में फेम इंडिया मैगजीन – एशिया पोस्ट ने नॉमिनेशन में आये 300 नामों को विभिन्न मानदंडों पर कसा , जिसमें सर्वे में सामाजिक स्थिति, प्रतिष्ठा, देश की आर्थिक व राजनीतिक व्यवस्था पर प्रभाव, छवि, उद्देश्य और प्रयास जैसे दस मानदंडों को आधार बना कर किये गये स्टेकहोल्ड सर्वे में रिलायंस फॉउंडेशन की चेयरपर्सन नीता अंबानी प्रथम स्थान पर है |