चुनौतियों को कामयाबी में बदलने का हुनर जानते हैं कार्तिकेय शर्मा (फेम इंडिया-एशिया पोस्ट मीडिया सर्वे 2018)

Asaia Post Survey 2018. fame india , Fame India Publication, india News, Media ke Sartaz

देश के सबसे प्रसिद्ध युवा उद्यमियों में शुमार आईटीवी नेटवर्क के मैनेजिंग डायरेक्टर और पिकैडिली ग्रुप के चेयरमैन कार्तिकेय शर्मा की पहचान बड़े निर्णय लेने वाले हौसलेमंद इंट्रप्रेन्योर के तौर पर की जाती है। आईटीवी के बैनर तले इंडिया न्यूज, न्यूजएक्स, संडे गार्जियन, आज समाज व आईएन खबर जैसे प्रमुख ब्रांड हैं जो अपने-अपने क्षेत्रों में अग्रणी मीडिया वेंचर हैं। इसके अलावा कई और महत्त्वाकांक्षी मीडिया वेंचरों की लांचिंग की भी तैयारी है।

14 मई 1981 को बेहद संपन्न और प्रतिष्ठित व्यवसायी-राजनीतिक परिवार में जन्मे कार्तिकेय शर्मा ने ऑक्सफोर्ड युनिवर्सीटी से बिजनेस मैनेजमेंट में ग्रैजुएशन किया है और लंदन के किंग्स कालेज से मास्टर्स डिग्री हासिल की है। भारत लौटने के बाद इन्होंने अपने पारिवारिक व्यवसाय पिकैडिली ग्रुप के ज्वाईन किया यह ग्रुप हॉस्पिटैलिटी बिजनेस में बड़ी दखल रखता है। इनके काम संभालने के बाद ग्रुप ने अंतरराष्ट्रीय स्तर पर कई नये ज्वाइंट वेंचर्स कर एक नयी पहचान बनाया।

मीडिया की बढ़ती संभावना को समझते हुये कार्तिकेय शर्मा ने एक नये फील्ड में शुरुआत का निर्णय लिया और आईटीवी मीडिया की स्थापना की। आईटीवी की शुरुआत इंडिया न्यूज हिन्दी न्यूज चैनल, आज समाज दैनिक अखबार और इंडिया न्यूज हिंदी मासिक मैगजीन के साथ हुई थी। इन्होंने इंडिया न्यूज के नाम से ही कई नये रीजनल चैनलों की शुरुआत की और अपनी दूरदर्शिता से कई बेहतर निर्णय लिये। इनकी वजह से आईटीवी देश के लोकप्रिय मीडिया हाउस में पहचाना जाने लगा और इंडिया न्यूज हिंदी व रीजनल न्यूज के टॉप ब्रांड बन गया।

आईटीवी नेटवर्क में कई ब्रांड हैं और सबकी अपनी-अपनी अलग खासियत है। आईटीवी ने इंडिया न्यूज़ नैशनल के बाद इसी नाम से हरियाणा, उत्तर प्रदेश/उत्तराखंड, राजस्थान और मध्य प्रदेश/छत्तीसगढ़ के लिये रीजनल चैनलों की शुरुआत की। फिर संडे गार्जियन अंग्रेजी अखबार, आईएन खबर डॉट कॉम व न्यूजएक्स डॉट कॉम जैसे मीडिया वेंचर। आज इनका मीडिया हाउस दो नैशनल न्यूज चैनलों, चार रीजनल चैनलों, दो अखबारों और विभिन्न डिजिटल प्लेटफॉर्मों के साथ एक तेजी से बढ़ता न्यूज नेटवर्क है।

कार्तिकेय शर्मा को इस इंडस्‍ट्री नये ट्रेंड स्‍थापित करने वाला माना जाता है। उन्होंने कम समय में ही चैनल का मार्केट शेयर इतनी तेजी से बढ़ाया कि दिग्गज भी हैरान रह गये। आईटीवी न्यूज नेटवर्क के 25 ब्यूरो ऑफिसों में दो हजार से ज्यादा लोग काम करते हैं और सौ से भी अधिक लाइव वीडियो सोर्सेज हैं। इसकी पहुंच 10 करोड़ से ज्यादा रेग्यूलर दर्शकों और पाठकों तक है।

हालांकि यह एक ऐतिहासिक उपलब्धि है, लेकिन कार्तिकेय शर्मा के लिये इस सफर को तय करना आसान नहीं रहा। कई उतार चढ़ाव आये लेकिन अपनी दूरगामी सोच और मजबूत इरादों की बदौलत वे आज इस सफलता के मुकाम पर हैं। इंडिया न्‍यूज अपनी लॉन्चिंग के मात्र चार महीने के अंदर ही 10 प्रतिशत मार्केट शेयर पर कब्‍जा कर लिया था और यह टॉप तीन की गिनती आ गया था।

कार्तिकेय शर्मा के बड़े निर्णयों मे अंग्रेजी न्यूज चैनल न्‍यूज एक्‍स का अधिग्रहण एक चर्चित निर्णय रहा। यह उनकी बिजनेस स्ट्रेटेजी ही थी कि मात्र दो साल के अंदर आईटीवी न्‍यूज नेटवर्क ने ब्रॉडकास्ट इंडस्ट्री के कई बड़े अधिग्रहण कर लिये। आईटीवी ने ट्रीलॉजिक डिजिटल के बड़े हिस्से को खरीद कर इसका कंट्रोल अपने हाथ में ले लिया ट्रीलॉजिक डिजिटल हिन्‍दी मूवी चैनल फिल्‍मी और फैशन एंड लाइफ स्‍टाइल चैनल एफटीवी का संचालन करती है। आईटीवी ग्रुप बच्‍चों के मनोरंजन के लिए मम मम टीवी और इंफोरमेशन एवं इंटरटेनमेंट चैनल ‘इनसाइट’ लॉन्‍च करने की तैयारी में है। खबर है कि आईटीवी नेटवर्क जल्दी ही एक बड़े मनोरंजन चैनल का भी अधिग्रहण करने की तैयारी में है। कार्तिकेय स्‍पोर्ट्स में निवेश कर रहे हैं और प्रो रेसलिंग लीग के आयोजक भी रहे हैं।

आईटीवी के सभी बिजनेस- ब्रॉडकास्‍ट, कंटेंट मैनेजमेंट और लॉजिस्टिक पर है और इनमें से प्रत्‍येक की अपने क्षेत्र पर काफी मजबूत पकड़ है। पारिवारिक बिजनेस हॉस्पिटैलिटी इंडस्‍ट्री का होने के बावजूद उन्‍होंने मीडिया को चुना जो आज के समय में आसान बिजनेस नहीं है। हालांकि इसके बावजूद उनकी बिजनेस स्ट्रेटजी ने इस बिजनेस को भी चमका दिया। इतना ही नहीं, इस साल से आईटीवी अंतरराष्‍ट्रीय पार्टनरशिप करने के साथ ही दक्षिण भारत के मार्केट में पैर जमाने की तैयारी में है। साथ ही आईटीवी के प्रमोटरों ने प्रो रेसलिंग लीग द्वारा खेल के क्षेत्र में भी काफी निवेश किया है। कार्तिकेय शर्मा अब लग्जरी, म्यूजिक और इंटरटेनमेंट के फील्ड में कुछ करने का प्लान बना रहे हैं। उन्होंने इंडस्‍ट्री में स्‍थापित कीर्तिमानों को काफी पीछे छोड़ दिया है।

फेम इंडिया-एशिया पोस्ट मीडिया सर्वे 2018 में कार्तिकेय शर्मा को भारतीय मीडिया के एक प्रमुख सरताज के तौर पर पाया गया है।