डा. दानिश रिजवान, हम पार्टी गरीबों की मदद ही राजनीति का मुख्य लक्ष्य

एकता और अनुशासन को जीवन का पाठ मानने वाले डॉ दानिश रिजवान की लोकप्रियता तेजी से बढ़ी है। सामाजिक और गरीबों की मदद करना इनका राजनीति में आने का मुख्य मकसद है। जिसमें वे कामयाब होते नजर आ रहे हैं।

डॉ दानिश रिजवान मूल रूप से पत्रकार हैं गरीबों की मदद के लिए राजनीति में प्रवेश किया। इन्होने हिंदुस्तान आवाम मोर्चा (हम) पार्टी से अपना नाता जोड़ा। और अपने योग्यता के कारण हम के राष्ट्रीय प्रवक्ता बने। एनसीसी के बेस्ट कैडेट रहे डॉ दानिश के जीवन का मूल मंत्र एकता और अनुशासन है। डॉ दानिश हम पार्टी के संस्थापक सदस्य हैं। वाद विवाद में अपनी बेबाकी से बात रखने वाले डॉ दानिश पार्टी में संगठन और जनसंपर्क की पूरी जवाबदेही बखूवी निभाते हैं। हम के संस्थापक अध्यक्ष जीतन राम मांझी की राजनीति के लक्ष्य को जनता तक पहुंचे इसके लिए डॉ दानिश लगातार कार्य कर रहे हैं। पत्रकार रहे डॉ दानिश हर विषय की अच्छी समझ रखते हैं और समाजसेवा में संपूर्णता देने की कोशिश करते हैं। युवाओं में जोश और शक्ति स्फूर्त करने में इनका जोड़ नहीं है। डॉ दानिश के जीवन का मूल मंत्र लोगों की मदद करना है। हर वर्ग और धर्म के लोगों को सहायता करने में इनका खास मकसद है। डॉ दानिश राजनीति के माध्यम से समाज के अंतिम व्यक्ति तक सरकारी सहायता पहुंचे इसके लिए सदा कार्य करते हैं। डॉ दानिश का सपना है कि हर वर्ग के लोगों को बिना किसी भेदभाव के उनका पूर्ण अधिकार मिले तभी राजनीति में आने का मकसद पूरा होगा। जिसके लिए वे दिन रात मेहनत कर रहे हैं।

फेम इंडिया-एशिया पोस्ट सर्वे में बिहार के 40 प्रभावशाली युवाओं की सूची में बेहतर कैटगरी में सर्वश्रेष्ठ पायदान पर हैं।