कुटीर उद्योग और शिल्पकला की विलुप्त हो रही परंपरा में जान डाली आइएएस ऑफिसर राजेश कुमार ने

2001 बैच के आइएएस ऑफिसर राजेश कुमार वर्तमान में भागलपुर प्रमंडल के आयुक्त हैं। अतिरिक्त प्रभार में राजेश कुमार लगभग छ: महीने तक मुंगेर प्रमंडल के आयुक्त भी रहे हैं। राजेश कुमार इलेक्ट्रीकल इंजीनियरिंग की पढ़ाई किए हुए हैं। मुंगेर प्रमंडल के अपने काफी छोटे अवधि के कार्यकाल में भी राजेश कुमार ने जनता के हित में विकास के लिए काफी काम किए हैं। इसी का परिणाम है कि स्वच्छ भारत अभियान के तहत मुंगेर प्रमंडल में 48 प्रतिशत शौचालय निर्माण का काम पूरा कर लिया गया है। सिर्फ भागलपुर और मुंगेर प्रमंडल में ही मुंगेर आगे नहीं है, बल्कि स्वच्छ भारत अभियान के तहत यह राज्य में भी अव्वल नंबर पर है। तेज-तर्रार एवमं कुशल प्रशासक राजेश कुमार भागलपुर प्रमंडल के विकास के लिए हर आवश्यक कदम उठाकर व्यवस्था को सही कर रहे हैं। मेडिकल कॉलेज अस्पताल में मरीजों के भोजन में किसी तरह की अनियमितता न हो इस पर विशेष ध्यान दिया जा रहा है। सभी कामकाज मे इस बात का ध्यान रखा जा रहा है कि कार्य संस्कृति बनी रहे और बिना ठोस कारण के कोई भी काम लंबित न हो। काम में परफेक्ट राजेश कुमार जब आयुक्त, मुंगेर के अतिरिक्त प्रभार में थे इन्होंने अधिकारियों को निर्देश दे रखा था, कि आप पूरे हफ्ते के अपने कामकाज का हिसाब हमें शनिवार को दें ताकि मुंगेर प्रमंडल में विकास का काम बाधित न हो। इस वर्ष गणतंत्र दिवस के मौके पर राजेश कुमार स्वयं झंडोत्तोलन कर जनता के बीच देशभक्ति का संदेश दिए। भागलपुर प्रमंडल में दलित और महादलित स्कूलों में झंडोत्तोलन की विशेष व्यवस्था करवाई गई थी और हर स्कूल में राज्य सरकार का कम से कम एक अधिकारी उपस्थित होना अनिवार्य था। इसका मुख्य उद्देश्य रहा समाज में समानता की भावना का संचार करना। प्रमंडल में वाहनों में ओवर लोडिंग को रोकने के लिए भी अभियान चलाया गया है। अधिकारियों द्वारा लक्ष्य के अनुसार राजस्व की वसूली पर खास ध्यान दिया जा रहा है। कृषि विभाग के कामों का निरिक्षण डीएम द्वारा और स्कूलों की रंगाई-पुताई और सफाई का निरिक्षण डीडीसी और जिला शिक्षा पदाधिकारी से करावाया जा रहा है। 90 प्रतिशत से कम वसूली वाले विभागों को वसूली में तेजी लाने के लिए आवश्यक कदम उठाने का निर्देश है।  आयुक्त राजेश कुमार, वैसे अधिकारी जो अच्छा काम कर रहे हैं उनका परफारमेंस रिपोर्ट विभाग में मंगवा रहे हैं। इससे अधिकारी काम के प्रति चैतन्य होंगे और परिश्रम से काम करेंगे। राजेश कुमार ने सख्त निर्देश दे रखे हैं कि काम में किसी भी तरह की कोताही बर्दाश्त नहीं की जाएगी। राजेश कुमार के सफल नेतृत्व में भागलपुर प्रमंडल एक बार फिर विकास की रफ्तार पकड़ लिया है।

फेम इंडिया मैगजीन-एशिया पोस्ट सर्वे के ‘असरदार आईएएस 2018’ के सर्वे में विभिन्न पैरामीटर में की गई रेटिंग में राजेश कुमार को प्रमुख स्थान पर पाया है।