राष्ट्र सेवा को ही सर्वोपरि मानती है प्रियंका सिंह रावत

देश के प्रति प्रेम और समाज के लिए कुछ कर गुजरने का जज़्बा के कारण राजनीति में सक्रिय हुई है उत्तर प्रदेश की बाराबंकी लोकसभा सीट से बीजेपी की तेजतर्रार सांसद प्रियंका सिंह रावत .

7 अगस्त 1985 उत्तर प्रदेश के बरेली में जन्मीं प्रियंका रावत का परिवार प्रशासनिक अधिकारीयों का है वहीं सक्रिय राजनीति में शामिल होने से पहले प्रियंका मीडिया प्रोफेशनल थीं. इन्होने रोहेलखण्ड विश्वविद्यालय, बरेली से जनसंचार में डिप्लोमा की पढ़ाई पूरी की है. भाजपा और आरएसएस की विचारधारा से प्रभावित प्रियंका धरने और आंदोलनों में छात्र जीवन से ही सक्रिय रहीं.

2014 के चुनाव में भाजपा ने इन्हें संसदीय चुनाव में कांग्रेस के नामी उम्मीदवार एवं पूर्व प्रशासनिक अधिकारी पी एल पुनिया के खिलाफ चुनाव लड़ने की ज़िम्मेदारी सौंपी. इस चुनाव में प्रियंका को व्यापक जीत हासिल हुई. ये स्वयंसेवी संगठन लाडली फॉउण्डेशन की मुख्य संरक्षक हैं जो बगैर किसी सरकारी मदद के सामूहिक विवाह, गरीब लड़कियों के लिए व्यावसायिक शिक्षा, महिला सशक्तीकरण का काम करती हैं , प्रियंका ज्यादा से ज्यादा समय अपने संसदीय क्षेत्र में रहकर जनसमस्याओं का निदान करती रहती हैं.