फेम इंडिया – एशिया पोस्ट सर्वे के 100 प्रभावशाली की सूची में प्रमुख स्थान पर हैं एल्केम लैबोरेट्रीज के फाउंडर व चेयरमैन सम्प्रदा सिंह

एल्केम लैबोरेट्रीज के फाउंडर व चेयरमैन सम्प्रदा सिंह देश के शीर्ष दवा उद्योगपतियों में शामिल है, राजनीति शास्त्र से मास्टर डिग्री प्राप्त 88 वर्षीय सम्प्रदा सिंह को फोर्ब्स मैगज़ीन ने 2013 में शीर्ष 100 आमिर भारतीयों में 48 वे स्थान पर माना, बिहार के जहानाबाद जिले के ओकरी गांव के साधारण परिवार में जन्मे श्री सिंह की सफलता लम्बे संघर्ष,  सकारात्मक सोच और कठिन मेंहनत की मिशाल है. अपनी सफलता का कारण सहकर्मियों और व्यवसायिक सहयोगियों से बेहतर सम्बन्ध मानने वाले सम्प्रदा  सिंह की पसंदीदा पंक्ति है – अभी मंजिले और है मीलो चलना बांकी है.  1953  में पटना में इन्होंने दवाइयों की छोटी सी दुकान खोली. सन 1960 में इन्होंने मगध फार्मा के नाम से डिस्ट्रीब्यूशन बिज़नेस में कदम रखा.  श्री सिंह 1972 में पटना से मुंबई चले गये। वहां उन्होंने 1973 में अलकेम कंपनी की नींव डाली, हजारों करोड़ की टर्नओवर वाली अलकेम का कारोबार भारत के अलावा अफ्रीका, अमेंरिका और यूरोप में भी फैला है.

छोटे से मेडिकल स्टोर से शुरुआत कर दुनिया के कई देशों में व्यापार करने वाली विश्व-स्तर की फार्मा कम्पनी बनाना युवाओं के लिए प्रेरणा स्रोत तो हैं ही, साथ ही देश के विभिन्न हिस्सों में स्थापित फैक्ट्रीज में में आपने राज्य के लोगों के लिए रोजगार का सृजन भी कर रहे हैं.  इन्हें फार्मा उद्योग के कई बड़े सम्मानित अवार्ड से भी नवाजा जा चुका है जिनमें “दी मेंडिसिन अपडेट लाइफ टाइम अचीवमेंट अवार्ड – हेल्थ केयर अवार्ड 2002, “लाइफ टाइम कॉन्ट्रिब्यूशन अवार्ड  -एक्सप्रेस फार्मा एक्सीलेंस अवार्ड” प्रमुख है,  उद्योग जगत  में बड़ी बुलंदी को पाने वाले सम्प्रदा सिंह को एशिया पोस्ट सर्वे की आम राय में 100 प्रभावशाली व्यक्तियों की सूची में प्रमुख स्थान पर है.