फेम इंडिया – एशिया पोस्ट सर्वे के 100 प्रभावशाली की सूची में प्रमुख स्थान पर हैं आयकर विभाग के प्रधान आयुक्त रघुवीर शरण उपाध्याय

रघुवीर शरण उपाध्याय 1985 बैच के भारतीय राजस्व सेवा के अधिकारी हैं। वे आयकर विभाग में प्रधान आयुक्त के पद पर तैनात हैं।  इसी वर्ष फरवरी में इस पद पर पदोन्नत किया गया है। मूल रूप से बिहार से ताल्लुक रखने वाले अपाध्याय का जन्म 31 अक्टूबर 1959 को हुआ। उन्हें 17 फरवरी 1986 राज्सव सेवा में शामिल किया गया। उन्होंने विभागीय प्रशिक्षण के बाद कई अहम पदों पर कार्य किया।

कुशल प्रशासक और प्रभावशाली व्यक्तित्व के धनी उपाध्याय 1987 से 1995 तक एसीआईटी/डीसीआईटी के तौर पर इंदौर और भोपाल में कार्यरत थे। वहां उनपर जांच सतर्कता और अभियोजन से संबंधित मामलों की जिम्मेदारी थी।

1995 में रघुवीर शरण उपाध्याय को कोलकाता स्थानांतरित कर दिया गया। वहां उन्होंने उपनिदेशक जांच के पद की जिम्मेदारी संभाली। 1997 में उन्हें जेसीआईटी के पद पर पदोन्नत कर दिया गया। वर्ष 2000 तक इस पद पर रहते हुए उन्होंने बी के बिरला ग्रुप, आरपीजी ग्रुप, डंकन ग्रुप और बीएम खेतान ग्रुप जैसे हाईप्रोफाइल मामलों के साथ साथ चाय कारोबार से जुड़े गुडरिक जैस कॉरपोरेट घरानों से संबंधित मामलों को निपटाने में अहम भूमिका निभायी। 2000 से 2002 के बीच उन्होंने प्रशासनिक भूमिका निभायी और इसके बाद उन्होंने स्वेच्छा से कोलकाता स्थित प्रत्यक्ष कर के क्षेत्रीय प्रशिक्षण संस्थान में अतिरिक्त निदेशक प्रशिक्षण के पद पर काम का विकल्प चुना।

रघुवीर शरण उपाध्याय की नेतृत्व क्षमता और कुशल प्रशासकीय दक्षता का ही नतीजा था कि उनके कार्यकाल में संस्थान को टैक्स रिकवरी और रीयल एस्टेट के मामले में उत्कृष्ट संस्थान का दर्जा प्राप्त हुआ। इसके अलावे पहली बार यहां भूटान के टैक्स अधिकारियों ने भी प्रशिक्षण दिया गया। 2006 में उन्हें प्रत्यक्ष कर विभाग में कमिश्नर बनाया गया। 2008 में वह मुम्बई आ गए। 2012 से वह आयकर विभाग में सतर्कता निदेशक की भूमिक में थे। उन्हें महाराष्ट्र, गुजरात, राजस्थान, मध्यप्रदेश और छत्तीसगढ़ राज्यों की जिम्मेदारी दी गयी थी। यहां उन्होंने विभाग के अधिकारियों के खिलाफ आने वाली शिकायतों की जांच के साथ साथ कई मामलों में सीबीआई के साथ समन्वय में काम किया।अपनी राष्ट्रीय छवि, कार्यक्षेत्र में सफलता, सामाजिक सरोकार, राज्य से जुड़ाव और देश में बड़ा प्रभाव बना कर इन्होंने बिहार का मान देश-दुनिया में बढ़ाया है। उपरोक्त पांच मानदंडों पर एशिया पोस्ट व फेम इंडिया मैगजीन द्वारा किये गये सर्वे में (बिहार से आने वाले) देश के 100 प्रभावशाली व्यक्तियों में इन्हें प्रमुख स्थान पर पाया गया है। टीम फेम इंडिया की तरफ से हार्दिक बधाई और शुभकामनाएं।