फेम इंडिया – एशिया पोस्ट सर्वे के 100 प्रभावशाली की सूची में प्रमुख स्थान पर हैं “ बार काउंसिल ऑफ़ इंडिया “ के चेयरमैन मनन कुमार मिश्रा

भारत में वकीलों के सबसे बड़े संगठन “ बार काउंसिल ऑफ़ इंडिया “ के चेयरमैन मनन कुमार मिश्रा सारण कमिश्नरी के गोपालगंज जिला के निवासी है , देश भर के अधिवक्ताओ के हित व सामाजिक सुरक्षा में  बेहतर बदलाव के लिए प्रयासरत मनन कुमार मिश्रा की प्राथमिकताओ में क़ानूनी शिक्षा में सुधार प्रमुख स्थान रखता है , इनके पिता गोपालगंज के जाने माने अधिवक्ता थे , सन 1980 में पटना लॉ कॉलेज से एल एल बी करने के बाद ये पटना हाई कोर्ट में वकालत के पेशे से जुड़े . वर्ष 1984 में बिहार अधिवक्ता कल्याण समिति के प्रदेश महासचिव व 1986 में बिहार यंग लायर्स एसोसिएशन के प्रदेश अध्यक्ष बने. ये बिहार स्टेट बार काउंसिल के लगातार चार बार सदस्य निर्वाचित हुए . इनके नाम “ यंगेस्ट मेम्बर ऑफ़ एनी बार काउंसिल ऑफ़ इंडिया “ का रिकॉर्ड भी रहा है .

पटना हाईकोर्ट में 2007 में वरीय अधिवक्ता घोषित होने वाले मनन कुमार मिश्रा इंडियन रेडक्रॉस सोसाइटी के बिहार ब्रांच के संरक्षक भी रहे है . तेलंगाना , पटियाला या तमिलनाडु जहाँ भी वकीलों से जुड़े मुद्दे हो “बार काउंसिल ऑफ़ इंडिया” के चेयरमैन होने के नाते इनकी भूमिका अहम् स्थान रखती है , सुप्रीम कोर्ट ऑफ़ इंडिया के वरीय अधिवक्ता मनन कुमार मिश्रा बार काउंसिल ऑफ़ इंडिया के चेयरमैन के रूप में कड़ी लगन व निष्ठा से देश भर के अधिवक्ताओं के अधिकार को मजबूत करने के लिए जुटे है . वकीलों को क़ानूनी फेर बदल व सुधार से अपडेट रहने के लिए इन्होने बार काउंसिल ऑफ़ इंडिया द्वारा समय समय पर ट्रेनिंग व सेमिनार का आयोजन करवानी शुरू करवाई .

देश भर के अधिवक्ताओं के बीच मनन कुमार मिश्रा का बहुत बड़ा प्रभाव है

फेम इंडिया मैगज़ीन के लिए एशिया पोस्ट द्वारा किये गए प्रभावशाली बिहारी 2016 सर्वे में 100 प्रभावशाली व्यक्तियों के व्यक्तियो की सूचि में बार काउंसिल ऑफ़ इंडिया के चेयरमैन मनन कुमार मिश्रा प्रमुख स्थान पर  है .